Saraswati Vidya Mandir

Arya Nagar (North) Gorakhpur

सरस्वती विद्या मन्दिर जू.हाई स्कूल: गणवेश

शिशु से अष्टम तक के भैया : (सोमवार से शुक्रवार)
ग्रीष्मकालीन : सफेद कमीज, नेवी ब्लू पैंट, सफेद लाल धारी मोजा, काला जूता(रेक्सीन या कपड़े का ), सफेद रुमाल I
( शनिवार – सफेद कमीज, सफेद पेंट, सफेद मोजा सफेद जूता (कपड़े का) )
नोट – शिशु एवं प्रथम के पेंट मे गेलिश लगा रहेगा I
शीतकालीन : सफेद फुल कमीज, नेवी ब्लू फुल पेंट लाल हाफ स्वेटर लाल ब्लेज़र लाल फुल स्वेटर, लाल टोपी लाल/मफलर I

शिशु से पंचम तक की बहनें : (सोमवार से शुक्रवार )
ग्रीष्मकालीन : सफेद कमीज, नेवी ब्लू स्कर्ट, सफेद लाल धारी मोजा, काला जूता(रेक्सीन या कपड़े का ), सफेद रुमाल I
( शनिवार – सफेद कमीज, सफेद स्कर्ट, सफेद मोजा सफेद जूता (कपड़े का) )
शीतकालीन : सफेद फुल कमीज, नेवी ब्लू फुल स्कर्ट लाल हाफ स्वेटर लाल ब्लेज़र लाल फुल स्वेटर, लाल टोपी लाल/मफलर I

षष्ठ से अष्टम तक की बहनें : (सोमवार से शुक्रवार )
ग्रीष्मकालीन : सफेद ब्लाउज, डार्क ग्रे (शेड नं० 91 जे० सी० टी० ) स्कर्ट (डबल घेरा), सफेद मोजा, काला जूता(रेक्सीन या कपड़े का ), सफेद रुमाल I
( शनिवार – सफेद ब्लाउज, सफेद स्कर्ट, सफेद मोजा सफेद जूता (कपड़े का) )
शीतकालीन : सफेद ब्लाउज, डार्क ग्रे (शेड नं० 91 जे० सी० टी० ) स्कर्ट (डबल घेरा), नेवी ब्लू हाफ स्वेटर, नेवी ब्लू ब्लेज़र, नेवी ब्लू फुल स्वेटर, नेवी ब्लू मफलरI

आवश्यक सूचना

सरस्वती विद्या मंदिर, आर्यनगर (उत्तरी), गोरखपुर अन्तरराष्ट्रीय करुणा क्लब का सदस्य है। करुणा क्लब से प्रेरित होकर सरस्वती विद्या मंदिर के संस्थान प्रमुख ने निर्णय लिया है कि पिछले सत्र 2012 से विद्या मंदिर शिक्षण संस्थान में अहिंसा को बढ़ावा देने के लिए सभी भैया/बहन, रेक्सीन/कपड़े के जूते ही पहनेंगे। चमड़े का जूता गणवेश में नहीं पहनेंगे। चमड़े का जूता इन जूतों से महंगा भी है तथा हिंसा को बढ़ावा भी देता है।